बीस दिनों से जवाई-बांडी नदी मे बंद मार्ग पर यातायात हुआ बहाल

   Posted Date : 8/12/2017 7:19:17 PM

शुक्रवार की साय को धुम्बडिया में कलक्टर सोनी ने दौ दर्जन गांवो के इस मार्ग को सुचारू करने के पीडब्ल्यूडी सहायक अभियंता को दिए थे निर्देश बागोड़ा 12 अगस्त- बागोड़ा-धुम्बडियां के बीच जवाई-सुकड़ी एंव बांडी नदी मे बीस दिनो से पानी के बहाव से क्षतिग्रस्त सडक पर दो दर्जन गावो का सम्पर्क कटने से यातायात ठप होने तथा बहते पानी मे होकर लोगो के आवाजाही को लेकर शुक्रवार की साय को भीनमाल होकर धुम्बडिया नदी किनारे जायजा लेने पहुचे जिला कलेक्टर एलएन सोनी ने सार्वजनिक निर्माण विभाग सहायक अभियंता को उक्त मार्ग पर दो दिन मे मरम्मत कर यातायात बहाल करने के निर्देश दिए थे। जिस पर महज दुसरे दिन ही बसो व लोगो की आवाजाही बहाल हो गई।

बागोड़ा-धुम्बडिया के बीच जवाई-सुकडी व बाडी नदी मे गत माह नदी व अतिवृष्टि से नदिया उफान पर होने से लाखो रूपए की लागत मे बनाई रपट चार जगहो से बह जाने से खडडे बन गए वही बांडी व सुकडी नदी मे अतिवृष्टि के बाद बाढ से बागोड़ा धुम्बडिया सम्पर्क कट जाने से दो दर्जन से अधिक गावो का सम्पर्क बंद हो गया था। बागोडा धुम्बडिया के बीच दोनो नदियो का प्रवाह है और दोनो नदियो मे पानी का बहाव चल रहा है।

धुम्बडिया बांडी नदी मे रास्ते को ठीक करने के लिए सार्वजनिक निर्माण  विभाग व ग्राम पंचायत सरपंच जालाराम मेेघवाल एंव ग्रामीणो की ओर से पिछले सात दिनो से बहते पानी मे पाईप लगाने व जेसीबी से रास्ता बहाल करने की मशक्कत की जा रही थी लेकिन शुक्रवार साय तक रास्ता नही खुल पाने से वाहनो का आवागमन बहाल नही हो पा रहा था इस दरमियान जिला कलक्टर लक्ष्मीनारायण सोनी ने शुक्रवार की साय को भीनमाल होकर धुम्बडिया गाव पहुचे ओर बांडी नदी का जायजा लिया तथा नदी मे आ रहे पानी व नदी के बहाव क्षैत्र को लेकर भी जानकारी ली।

इस दौरान कलेक्टर ने बागोड़ा धुम्बडिया मार्ग की बहाली को लेकर पीडब्ल्यूडी के अधिकारियो से जानकारी लेकर सहायक अभियंता तेजाराम विश्नोई को दो दिन मे बागोडा उपखंड से इन गावो को जोडने मे सडक बहाल करना जरूरी बताते निर्देश दिए। कलेक्टर सोनी ने नदी के बहाव मे रोडा बन रही बबूल की झाडियो को कटवाने के निर्देश भी दिए। आखिर कार जिला कलेक्टर के निर्देश पर बागोड़ा धुम्बडिया नदी मे मार्ग शनिवार प्रातः दस बजे सुचारू हो गया। अब इस मार्ग पर दो दर्जन गावो व जोधपुर, बालोतरा, बाडमेर, चैहटन, रामदेवरा, सायला, भाण्डवपुर, मोरसीम व सिणधरी के लिए यात्रि बसो का संचालन पुनः बहाल हो जाने से यात्रियो व रूणेछा जाने वाले पैदल श्रद्धालूओ को आवाजाही मे परेशानी का सामना नही करना पडेगा।

Visitor Counter :