प्रबंध कार्यकारिणी पर निजी स्कूल संचालकों की अनदेखी

   Posted Date : 5/19/2017 5:46:32 PM

सिरोही। गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों को जहां अपने स्तर पर नियम के तहत प्रबंध समिति की कार्यकारिणी घोषित कर जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक में पे्रषित करनी होती है वहीं अभी तक किसी भी गैर शिक्षण संस्थानों के संचालको ने अपनी प्रबंध कार्यकारिणी गठित नही की है,जिससे नियमो का खुला उल्लंघन किया जा रहा है और इसे लेकर गैर शिक्षण संस्थाएं सख्त नजर नही आ रहे है,लेकिन इस मामले को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक चन्द्रमोहन उपाध्याय सख्ती दिखाते जरूर नजर आ रहे है,जिसे लेकर डीईओ उपाध्याय  ने समस्त संचालको को नोटिस देकर सात दिनो के अंदर अपनी कार्यकारिणी गठित कर शिक्षा विभाग मे प्रेषित करने को लिखा है,जिसके बाद 23 निजी संस्थाएं इस कार्यकारिणी की जानकारी सहित सरकारी प्रतिनिधियों की सूची भी विभाग से मांगी है । 

इसलिए जरूरी है कार्यकारिणी

वहीं जानकारी के अनुसार सोसायटी एक्ट के तहत निजी विद्यालयों के संचालको द्वारा अपने स्तर पर एक प्रबंधन कार्यकारिणी का गठन करना होता है । इस कार्यकारिणी में जहां एक बालक के अभिभावक को लिया जाता है वहीं इसके साथ साथ एक सरकारी विद्यालय के प्रधानाचार्य और एक शिक्षा विभाग से जुडे अधिकारी तथा बाकी अन्यों को सम्मलित किया जाता है और ये कार्यकारिणी शिक्षा विभाग की देखरेख मे होती है।

पुर्नगठन पर लगती है रजिस्ट्रार्ड की मोहर

 वहीं कार्यकारिणी बनने के बाद निजी संचालकों द्वारा समय समय पर कार्यकारिणी की बैठक लेनी होती है,जिसकी सूचना प्रधानाचार्य,शिक्षा विभाग तथा समस्त कार्यकारिणी के सदस्यों को करनी होती है । बैठक में इस बात पर ध्यान रखा जाता है कि निजी विद्यालयों में क्या क्या गतिविधियां हुई है और फिर क्या हो रही है, जिसमें बच्वो के स्कूल फीस,मैदान,व्यवस्था तथा अन्य प्रकार की गतिविधियों पर ध्यान रखा जाता है। बैठक के बाद उसकी एक प्रतिलिपि जिला शिक्षा विभाग में जमा करानी होती है। वहीं इस प्रबंधन कार्यकारिणी का दो वर्षाे में पुर्नगठन होता है,जिसे रजिस्ट्रार संस्थाएं प्रमाणित करती है लेकिन देखा जाए तो जिला शिक्षा अधिकारी के लिखित मे आदेश देने के बाद भी आज दिन तक किसी ने कार्यकारिणी नही बनायी है,जिससे अब निजी विद्यालय को नोटिस देकर कार्यकारिणी गठित करने के आदेश दिए है

इनका कहना है

 जिले की समस्त निजी संचालको को सात दिन के अंदर अपनी प्रबंध कार्यकारिणी करने के लिए नोटिस दिए है अगर वह सात दिनों के अंदर अपने स्तर पर कार्यकारिणी गठित नही करता है तो उसके विरूद्ध कार्रवाही की जाएगी साथ ही संबंधित गैर सरकारी शिक्षण संस्थानों को आदेशित किया है कि आप विद्यालय में होने वाली बैठको में विभागीय प्रतिनिधियों को अवश्यक सूचित करे। -चन्द्रमोहन उपाध्याय,जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक,सिरोही।

Visitor Counter :