आंधी में उडे टीनशेड़, विधुत आपूर्ति ठफ होने से उघोग धंधे प्रभावित

   Posted Date : 5/18/2017 6:22:08 PM

बागोड़ा - उपखंड मुख्यालय समेत दर्जनों गांवो में बुधवार शाम को तेज वेग से बही धुल भरी आंधी से लोगो की दिनर्चया डावाडोल होकर रह गई। आंधी के बाद थोड़ी देर हुई बुंदाबांदी से मौसम मे ठंडक घूलने से लोगो को गर्मी से राहत मिली। कई जगहो पर टीनशेड़ हवा मे उड़कर जमीन पर आ गिरे तो कही जगहो पर तेज हवा के दबाव मे वृक्ष सड़को पर गिरने से वाहन चालको को परेशानी का सामना करना पडा। बुधवार शाम को अचानक बदले मौसम से विद्युत आपूर्ति पूर्णतया ठप हो गई जो दूसरे दिन गुरूवार को प्रातः पौने दस बजे बहाल हो पाई लेकिन दिन भर कटोती होने से उधोग धंधो पर विपरित असर पडा।

कस्बे मे शाम सात बजे तेज हवाओ का दौर चलने से कई दुकानदारो व ग्रामीणो को संभलने का मौका तक नही मिला। धुल भरी आंधी का बहाव इतना तेज था कि कई दुकानो के बाहर छाया के लिए लगे टीनशेड व चप्परे हवा के साथ दूर दूर जा गिरे तो बस स्टैण्ड परिसर मे हवा के बहाव से एक टीनशेड विद्युत लाईन पर झूल गया गनीमत रही की उस दौरान विद्युत आपूर्ति बंद होने से कोई नुकशान नही हुआ। इसके बाद लोग संभल पाते की बारिश की बुदा बांदी थोडी देर के लिए शुरू हुई जिससे कई दुकानो के बाहर रखा सामान पानी से भीग गया।

सड़को पर किचड़ होने से राहगीरो को आवाजाही मे परेशानी से दो चार होना पडा। क्षैत्र के मोरसीम, राउता, वाटेरा, चैनपुरा, जैसावास, खोखा, रंगाला, धुम्बडिया, नरसाणा, वाली, मेडा, डूंगरवा समेत कई गावो मे वृक्षो के गिरने व तेज आंधी से मामूली नुकशान होने के समाचार है। सड़को पर पेडो के गिरने से निजी वाहनो व यात्रि बसों के आवागमन मे यात्रियो को परेशान होने से गतव्य पहुचने मे देरी हुई।

Visitor Counter :